दसवीं बाद फार्मेसी में कैरियर बनाए- और लाखों कमाएं

दसवीं बाद फार्मेसी में कैरियर बनाए- और लाखों कमाएं

फार्मेसी में कैरियर बनाए- फार्मेसिस्ट का फील्ड काफी व्यापक है। इसमें कॅरियर की अपार संभावनाएं भी हैं। दवाइयों की जानकारी रखना और इनसे जुड़ी रिसर्च के बारे में जानना जिन्हें अच्छा लगता है वे इस फील्ड में आ सकते हैं। इस क्षेत्र को ज्वॉइन करने के लिए डी फार्मा और बी फार्मा जैसे कोर्स करना जरूरी है। ये कोर्स करने के बाद अभ्यर्थी सरकारी व प्राइवेट के अलावा कई नए कॅरियर से जुड़ सकते हैं। जिसमें सैलरी तो अच्छी मिलती ही है साथ ही नए शोध भी करने को मिलते हैं।

एक फार्मासिस्ट राज्य सरकार और केंद्र सरकार, स्वास्थ व कल्याण विभाग में नौकरी के लिए अप्लाई कर सकता है। सरकारी विभाग में सार्वजानिक दवा उत्पादन कंपनी में नियुक्ति भी समय-समय पर होती है उसमें आवेदन किया जा सकता है। सरकारी अस्पतालों या संस्थान में गुणवत्ता नियंत्रण व जांच के लिए विशषज्ञों की नियुक्त होती है जिसमें अच्छे मौके मिल सकते हैं। सैन्य बल, सरकारी बैंक में भी फार्मासिस्ट की नियुक्ति के लिए वैकेंसी निकलती है। एक फार्मासिस्ट का कॅरियर दवाओं की कंपनी में मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव, ड्रग एंड फार्मूला इंस्ट्रक्टर के तौर पर भी हो शुरू हो सकता है।

इसके लिए बी फार्मा या डी फार्मा की डिग्री या डिप्लोमा की जरूरत होती है। एमआर के तौर पर इनका काम दवा के ब्रांड के बारे में चर्चा करना और बिक्री के लिए प्रमोशन करना होता है। वहीं ड्रग इंस्ट्रक्टर का काम दवा में इस्तेमाल किये गए फॉर्मूले के बारे में जांच-परख करना होता है। फार्मासिस्ट की जानकरी बेहतर है तो सरकारी अस्पताल में अपार मौके हैं।

यहां दवाईयों और चिकित्सा संबंधी अन्य सहायक सामग्रियों के भंडारण, स्टॉकिंग और वितरण का जिम्मा होता है जबकि रिटेल सेक्टर में फार्मासिस्ट में एक बिजनेस मैनेजर की तरह काम करने की योग्यता होनी चाहिए। प्राइवेट हॉस्पिटल में फार्मासिस्ट के पास दवाईओं से जुड़े डिपार्टमेंट के निरीक्षण के अलावा भण्डारण, स्टॉकिंग और वितरण का जिम्मा होता है। प्राइवेट सेक्टर में भी फार्मासिस्ट की सैलरी लाखों रूपए सालाना होती है। रिटेल सेक्टर में फार्मासिस्ट को दवाओं का प्रबंध संभालना होता है।

फार्मेसी के लिए दसवीं के बाद वायोलॉजी, फिजिक्स, केमिस्ट्री या फिर मैथ, फिजिक्स, केमिस्ट्री से बारहवीं पास होना आवश्यक है। इस सेक्टर के कुछ लोकप्रिय कोसं हैं जो आप कर सकते हैं। फार्मेसी में डिप्लोमा (डी. फार्मा.): यह कोर्स आपको इस सेक्टर के लिए आधारभूत योग्यता देगा। यह दो साल का कोर्स होता है।

बैचलर ऑफ फार्मेसी (बी. फार्मा.): डी. फार्मा की बजाय आप चार वर्षीय (आठ सेमेस्टर का) अंडरग्रेजुएट बी. फार्मा, कोर्स भी कर सकते हैं। एम. फार्मा. में फार्माकोग्नॉसी, फार्मासूटिकल इंजीनियरिंग, बायो केमिस्ट्री जैसे स्पेशलाइजेशन कर सकते हैं। मास्टर्स कोर्स के लिए राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा जीपीएटी होती है। रिसर्च के क्षेत्र में काम करने का लक्ष्य है तो पीएचडी करने का विकल्प भी है।

फार्मा सेक्टर में कुछ विशेष स्किल जरूरी हैं। जैसे- लाइफ साइंस और फार्मेसी के प्रति गहरी रुचि होना। फार्मेसी से जुड़े रिसर्च के क्षेत्र में काम करने के लिए अच्छी शैक्षणिक पृष्ठभूमि के साथ विश्लेषण क्षमता भी बेहतर होनी चाहिए। वहीं, फार्मेसी के मार्केटिंग क्षेत्र में कॅरियर बनाने के लिए अच्छी अंग्रेजी और कम्युनिकेशन स्किल बेहतर होने से आगे बढ़ने के मौके मिलते हैं।

फार्मा कोर्स युवाओं के लिए सरकारी क्षेत्र में, रिसर्च संस्थानों में और विश्वविद्यालयों में राहें खोल सकता है। इस सेक्टर में दवाओं, नई दवाओं के विकास, उनके फार्मुलेशन, उत्पादन, बिक्री और नए बाजारों की खोज जैसे सभी स्तर के काम होते हैं। आमतौर पर ट्रेनिंग के तुरंत बाद नियुक्ति में फार्मासिस्ट को लगभग 25 हजार रुपए महीने मिलते हैं। शोध के क्षेत्र में 40 हजार रुपए तक सैलरी मिल सकती है। उत्पादन इकाईयों में अच्छा पैकेज मिलता है और स्वतंत्र रूप से भी काम कर सकते हैं।

फार्मासिस्ट के लिए चयन आमतौर पर शैक्षणिक रिकॉर्ड और इंटरव्यू के आधार पर किया जाता है। हालांकि, रिक्तियों के अनुरूप यदि अधिक संख्या में आवेदन प्राप्त होते हैं तो संबंधित संस्थान उम्मीदवारों की शॉर्टलिस्टिंग के लिए लिखित परीक्षा का भी आयोजन कर सकता है। फामांसिस्ट बनने के लिए जरूरी है कि उम्मीदवार की आयु 18 वर्ष से 27 वर्ष के बीच हो।

कोविड-19 संकट हो या सामान्य समय, स्वास्थ्य रक्षा के लिए फार्मा सेक्टर की जरूरत कभी खत्म नहीं होने वाली है, भारत फार्मास्युटिकल प्रोडक्शन में विश्व में तीसरे नंबर पर है और यहां 3,000 दवा कंपनियां हैं और 10,500 दवा उत्पादक इकाईयां, ऐसे में इस सेक्टर में कुशल युवाओं की आवश्यकता हर स्तर पर है।

Whatsappjoin
TELEGRAMjoin
YOUTUBESUBSCRIBE

बिहार में टिचर की बम्पर बहाली | BPSC teacher 2nd Phase Vacancy | यहाँ से करें आवेदन

Latest Jobs

View More

Bihar Special

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top