बिहार विश्वविद्यालय और पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में स्नातक पार्ट -1 नामांकन शुरू

बिहार विश्वविद्यालय और पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में स्नातक पार्ट -1 नामांकन शुरू

बिहार विश्वविद्यालय और पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय में स्नातक पार्ट -1 नामांकन शुरू– बीआरएबीयू में 15 अप्रैल से स्नातक पार्ट वन में दाखिले की प्रक्रिया शुरू होगी। कुलपति प्रो. दिनेश चंद्र राय ने सोमवार को इसके लिए जरूरी निर्देश दिया। डीएसडब्ल्यू प्रो. अभय कुमार सिंह ने बताया कि 15 अप्रैल से 15 मई तक स्नातक में आवेदन के लिए पोर्टल खुला रहेगा। दाखिले की प्रक्रिया 30 जून को पूरी कर ली जाएगी।

एक जुलाई से नए सत्र की कक्षाएं शुरू होंगी। डीएसडब्ल्यू ने बताया कि 21 नवंबर से पहले सेमेस्टर की परीक्षा शुरू होगी। 10 मार्च 2025 को रिजल्ट जारी किया जाएगा। स्नातक में दाखिले की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। छात्रों को पोर्टल पर आवेदन करना होगा। आवेदन के लिए विवि एक एप भी तैयार करवा रहा है। डीएसडब्ल्यू प्रो. अभय कुमार सिंह ने बताया कि 15 मई के बाद स्नातक में दाखिले के लिए मेरिट लिस्ट जारी होगी। तीन मेरिट लिस्ट जारी होने की उम्मीद है।

पिछले साल स्नातक में 1 लाख 42 हजार छात्रों का दाखिला हुआ था। इस बार छात्रों को उनके जिले के कॉलेज में ही दाखिला दिया जाएगा। बीआरएबीयू के डीएसडब्ल्यू ने बताया कि एडमिशन पोर्टल खोलने से पहले छात्रों को बताया जाएगा कि वह नामांकन के लिए अपने ही जिले के कॉलेजों का चयन करें। छात्रों को अधिकतम सात कॉलेज चुनने का विकल्प मिलेगा। इसमें चार अपने जिले का कॉलेज चुनना होगा।

यूजीसी की ओर से पीएचडी को लेकर नई नियमावली आने के बाद एआईएसएफ प्रतिनिधिमंडल ने परीक्षा नियंत्रक प्रो. टीके डे से मिल कर पैट 2022 और 2023 की प्रवेश परीक्षा संयुक्त रूप से कराने की मांग की। एआईएसएफ के जिलाध्यक्ष महिपाल ओझा ने परीक्षा नियंत्रक से कहा कि विश्वविद्यालय का सत्र विलंब होने की वजह से पीएचडी का सत्र अब तक पटरी पर नहीं आ सका है

यूजीसी के नए आदेशानुसार अब विश्वविद्यालय पीएचडी प्रवेश परीक्षा नहीं ले पाएगा। दूसरी तरफ अब तक 2022 और 2023 की परीक्षा लंबित है। जिला सचिव कंचन विद्रोही ने कहा कि विवि कई बार परीक्षा की तिथि घोषित कर चुका है, परंतु किसी न किसी कारण से उसे टाल दिया जाता रहा है। राज्य परिषद सदस्य अभिषेक कुशवाहा ने कहा कि विवि जल्द पोर्टल खोल कर नए आवेदकों को आवेदन का मौका दे।

पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय (पीपीयू) प्रशासन ने च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (सीवीसीएस) सत्र 2024-28 के प्रथम सेमेस्टर में नामांकन के लिए आवेदन प्रक्रिया दो मई से आरंभ होगी। वहीं, व्यवसायिक कोर्स में नियमित रूप से तीन वर्षिय वार्षिक परीक्षा प्रणाली के तहत साथ-साथ आवेदन लिए जाएंगे। सोमवार को कुलपति प्रो. आरके सिंह की अध्यक्षता में पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय, नामांकन समिति की बैठक हुई।

नए सत्र में स्नातक (यूजी) 2024-28 के प्रथम सेमेस्टर में नामांकन के लिए दो मई से प्रक्रिया आरंभ होगी। नामांकन प्रक्रिया 30 जून तक खत्म करते हुए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया आरंभ होगी। चार जुलाई से कक्षाएं आरंभ होगी। पाटलिपुत्र विश्वविद्यालय के तहत पटना एवं नालंदा जिले के अंगीभूत व संबद्ध महाविद्यालयों में लगभग एक लाख 20 हजार सीटों पर नामांकन होगा।

एके नाग ने बताया कि विश्वविद्यालय में स्नातक में नामांकन इंटर के अंक के आधार पर ही लिए जाएंगे। नियमित व व्यावसायिक कोर्स के लिए कोई नामांकन टेस्ट नहीं आयोजित किए जाएंगे। अंकों के आधार पर कटआफ तय करते हुए नामांकन लिए जाएंगे। नामांकन में नए आरक्षण नियमावली के तहत 75 प्रतिशत आरक्षण के प्राविधान किए गए हैं। उन्होंने बताया कि विश्वविद्यालय की ओर से पूर्व में घोषित कैलेंडर के अनुसार ही नामांकन लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि व्यवसायिक कोर्स में होने वाले नामांकन में अव बीबीएम कोर्स के नाम में बदलाव कर नामांकन लिए जाएंगे। यह कोर्स अव वीवीए के नाम से रहेगा। इसका सिलेबस भी पुराना ही रहेगा।

Whatsapp Group JoinCLICK HERE
TELEGRAMjoin
YOUTUBESUBSCRIBE

Result

Latest Jobs

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top